दोस्तों,
३ ऑक्टोबर २०१५ की असफल स्ट्राइक के बाद अहसास हुआ कि स्ट्राइक की घोषणा करने भर से काम नहीं बनेगा। सफल होना है तो महीने दो महीने ग्राउंड वर्क करना होगा, हर सेट तक जा कर मेम्बर्ज़ को संगठित करना होगा। दुर्भाग्यवश FWICE ने स्ट्राइक की घोषणा के बाद हमसे सहयोग माँगा है, यानी हमसे ना तो पूछा गया और ना ही तैयारी का समय दिया गया। चूँकि अब हम ये गैरंटी नहीं दे सकते कि हमारे अधिकांश मेम्बर शूट पे नहीं जाएँगे, स्ट्राइक को हमारा सपोर्ट पिछली बार की तरह खोखला दावा बन कर रह जाएगा। अतः EC का निर्णय यही है कि फ़िलहाल हम मुद्दों का समर्थन तो करते हैं, लेकिन स्ट्राइक का समर्थन करने में असमर्थ हैं।अपने मुद्दों के लिए जिस दिन स्ट्राइक की आवश्यकता होगी, CINTAA अपने बलबूते पर स्ट्राइक करेगी और इस तैयारी के साथ करेगी कि उस दिन एक भी मेम्बर शूट नहीं करेगा।